भारत की महान कमला सर्कस हिस्ट्री और जानकारी

कहते है के दुनिआ भी एक सर्कस है जिसमे आपको रोजाना हज़ारो लाखो दुनिआ के रंग देखने को मिलते है। आज इक लेख के जरिये हम आपको महान कमला सर्कस हिस्ट्री और कमला सर्कस के बारे में जानकारी देंगे।  कमला सर्कस के बारे जान्ने से पहले जाने सर्कस क्या है। 

kamla circus history in hindi


बचपन में कभी न कभी आपने नहीं किसे मेले में जा शहर में Circus तो देखि ही होगी अगर आप बिलकुल नयी पीढ़ी से है तोह आप ने आम तोर पर Circus Show को टेलीविज़न में ही देखा होगा।  उसमे अपने देखा होगा के सर्कस में कैसे लोग आपका मनोरंजन करते है जैसे की सर्कस में कुज जानवर होते है और कुज इंसान जो सब मिलकर इक ही काम करते है वह है आपका मनोरंजन।  

सर्कस शब्द सर्किल से निकला है जिसका मतलब है गोल। इसी तरह सर्कस को इक गोल आकार के तम्बो में लगाया जाता है। सर्कस में बहुत लोग काम करते है तकरीबन 100 से 200 तक सर्कस में वर्कर होते है जिसमे से कलाकारों को छोड़ के और भी लोग होते है जैसे के तम्बो के देख रेख करने वाला, जानवरो की देख रेख वाला और उनके खाने का बंदोबस्त करने वाला, सर्कस में जितने भी लोग है उनका रहना खाना सब बंदोबस्त करना और खर्चा निकलना आदि बहुत ही खर्चे वाला काम है, सायद इसीलिए आज के दौर में कोई भी सर्कस नहीं लगाना चाहता। 

कुज मशहूर सर्कस मालिकों के अनुसार अब लोग सर्कस देखना ज़्यादा पसंद नहीं करते जितना की लोग कमला सर्कस  के ज़माने में सर्कस देखना पसंद करते थे।  ज़ाहिर सी बात है आज का जमाना Internet , You Tube , टेलीविज़न , सिनेमा और Web Series का है इसलिए कोई भी इसको देखना पसंद नहीं करता जिसके चलते सर्कस भारत में बंद के तादाद में है जा बहुत ही काम जगह में मेलो आदि में देखने को मिलते है।  आज हम आपको भारत की एक बहुत ही मशहूर और प्राचीन सर्कस कमला सर्कस के बारे कुज बतायेगे। 

कमला सर्कस हिस्ट्री और कमला सर्कस क्या था कोण था कमला सर्कस का मालिक और कमला सर्कस कैसे बंद हुई आदि जानने के लिए इस लेख को पूरा पढ़े। 


कमला सर्कस History in Hindi

कमला सर्कस हिस्ट्री इंटरनेट आदि में बहुत ही काम मिलती है इसलिए हमने भी बहुत रिसर्च करके यह लेख कमला सर्कस हिंदी त्यार किया है।  कमला सर्कस इक ट्रैवेलिंग सर्कस थी जिसकी सुरुवात भारत से हुई और यह कमला सर्कस भारतीय थी। कमला सर्कस ट्रेवेल्लिंग सर्कस थे इसका मतलब के यह सर्कस पूरे भारत ही नहीं बल्कि भारत से बाहर भी दूर विदेशो में अपने कार्यक्रम करने जाती थी क्यूंकि इसके सब कलकार बाहर दूर देशो वदेशो में ट्रेवल करते करते जाते थे इसलिए इसको चलती फिरती और ट्रैवेलिंग सर्कस भी कहा जाता था। 

यह सर्कस यहाँ भी लगती थी वह लोगो में बहुत खुसी के लहर हो जाती थी और आस पास के गाँवों के लोग इकठे होकर इसको देखना आते थे। कमला सर्कस इक जगह पर महीनो तक भी लगी रहती थी और ऐसा ही जब सर्कस का कारवां कही दूर देश विदेश में जाता था तोह वह भी कई महीनो तक उनका डेरा लग जाता था और वह से फिर घुमते घुमते कही और जगह जा कर अपना डेरा लगा लेते थे। 

इंडियन कमला सर्कस की सुरुवात 1944 में हुई थी। कमला सर्कस के संचालक और मालिक ओनर प्रोफेसर दामोदरन थे। कमला सर्कस का सस्थांपक केरला के थालास्सेरी से था। कमला सर्कस के ओनर साउथ इंडिया से थे। कमला सर्कस का नाम कमला क्यों पढ़ा ? कमला दरअसल दामोदरन के बेटी का नाम था उसके नाम पर दामोदरन ने इस ग्रेट इंडिया सर्कस का नाम कमला सर्कस रखा। कमला सर्कस ने अपना प्रदर्शन India, Singapore, Sri Lanka, Malaysia, Hong Kong, Thailand, Indonesia, Philippines, Australia और तमाम ऐसे ही बड़े देशो में किया। 

कमला सर्कस के प्रदर्शन

great indian kamla circus old picture
Old Day Kamla Circus Picture (source google images)


The Great Indian Kamla Circus में लगपग 150 के करीब कर्मचारी जुड़े थे , जिसमे से भारतीय और विदेशी कलाकार भी मौजूद थे इसमें जानवर और पक्षी नहीं मौजूद थे। कहा जाता है के कमला सर्कस में सभी कलाकार अपने अपने हुनर में काफी कुशल थे और बेहतरीन प्रदर्शन करके वाहवाही बटोरते थे। लेकिन अगर कभी show का प्रदर्शन अच्छा ना जा रहा हो तो उन्होंने जोकर भी रखे थे जो की शो को इक फ्लॉप होने से बचा लेते थे ऐसे ही तमाम कलाकार अपने आप में कुशल थे।  ज़्यादातर कमला सर्कस में Cat Act, Elephant Act, Joker Act, Girls Show, bear Act आदि बहुत प्रचलन में थे। 

कमला सर्कस कैसे डूबा था  How kamla Circus Died

वैसे तो भारत में सर्कस का पिता विष्णु पंत छत्रे को कहा जाता है जो की महाराष्ट्र से थे, लेकिन कमला सर्कस भारत की इकलौती सर्कस थी जो आसमानी बुलंदिओ तक पहुंची थी। भारत की पहली सर्कस थे ग्रेट इंडिया सर्कस थी जो की विष्णु पंत छत्रे द्वारा सुरु करि गयी थी। कमला सर्कस के भारत और भारत के बहार दर्शको में नहुत पकड़ बन गयी थी इसलिए दिन बार दिन यह ग्रेट इंडियन सर्कस काफी मशहूर होती जा रही थी। 

कमला सर्कस कैसे डूबा ? जी हा ग्रेट कमला सर्कस आखिर इक दिन कलाकारों के साथ सफर करते हुए ऐसे ही हमेशा के लिए पानी में डूब गया।  और ऐसे ग्रेट कमला सर्कस का खत्म हो गया। लेकिन कुज सूत्रों के अनुसार कमला सर्कस डूबा नहीं बल्कि धीरे धीरे कलाकारों में मतभेद होने से ख़तम हो गया। 

कमला सर्कस 1950  के दौरान बहुत ही प्रचलित थी और इस महान भारतीय सर्कस की तारीफ पंडित जवाहर लाल नेहरू ने भी की थी। दामोदर जी ने कमला सर्कस को PEAK तक पंहुचा दिया था लेकिन आखिर इस बहुत की प्यारी सर्कस को इक दुर्घटना ले डूबी । यह सर्कस उन दिनों Asia की सबसे बड़ी Circus में से एक थी । kamala Circus Company के मालिक दामोदर भी 1966  में दुनिआ को हमेशा के लिए शोर गए । यह महान कमला सर्कस 1976  में डूब गयी और कमला सर्कस के डूबने की वजह कलाकारों का खरचा और Kamla Circus company में जानवरो का खर्चा । क्यूंकि सबका खर्चा निकलना बहुत कठिन हो गया था और धीरे धीरे सर्कस कंपनी में कलाकारों की दिलचस्पी ख़तम होने लगी। 

ऐसे ही धीरे धीरे ग्रेट इंडिया कमला सर्कस डूब गया, और बाद में युवाओ ने भी सर्कस में काम करने से मना कर दिया ।  इस तरह कुज सूत्रों के अनुसार विश्व प्रसिद्ध सर्कस कमला पानी में डूब गयी और कुज सूत्रों के अनुसार यह सर्कस धीरे धीरे करके खुद ही ख़तम होती रही क्यूंकि दामोदर जी की मौत के बाद इस मनोरजन कंपनी को कोई अच्छे से संभाल नहीं पाया। 

भारत में सर्कस को लेकर कोई भी कार्यालय नहीं है जिसके कारन यह सर्कस बिज़नेस लुपत हो रहा है और अब नए कानून के तहत सर्कस में जानवरो का रखना मना है । किसी भी तरह का जानवर जा पक्षी अब किसी Open Theater  आदि में रखने की मनाही है । इसी कारन सर्कस में मात्र अब इंसान ही है जो करतब दिखते हुए मिलते है और अब भारत में हर एक शहर में इंटरनेट सुविधा उपलभ्द होने के कारन लोग ऑनलाइन ही होने मनोरंजन के विक्लप ढूंढ लेते है और यह मनोरंजन का साधन अब बंद होने की तादाद पर है ।

साथ ही यह भी पड़े : Gogia Pasha Magician ke baare jaankari

तोह इस लेख के जरिये हमने आपको ग्रेट इंडिया कमला सर्कस , कमला सर्कस हिस्ट्री और कमला सर्कस कैसे डूबी में जानकारी दे । अगर आपको यह अनोखे विषय के बारे जानकारी पसंद आयी तोह आप इसको आगे भी शेयर करे जिससे हमें और मोटिवेशन मिलती है नए नए विषय ढूंढ के लाने की और आपको रूबरू करवाने की ।

Post a Comment

0 Comments